हिम्मत मत हारो, नए सिरे से फिर यात्रा शुरू करो, सफलता अवश्य मिलेगी” !

अगर आप कोशिश करते हो और फिर
भी सफलता नहीं मिलती तो निराश मत होना,
बल्कि उस व्यक्ति को याद करना जिसने 21वें
वर्ष में वार्ड मेंबर का चुनाव लड़ा और हार
गया ! 22वें वर्ष में व्यवसाय
करना चाहा तो नाकामयाब रहा ! फिर 27वें
वर्ष में पत्नी ने तलाक दे दिया। 32वें वर्ष में
सांसद पद के लिए खड़ा हुआ पर मात खा गया।
37वें वर्ष में कांग्रेस की सीनेट के लिए खड़ा हुआ,
किंतु हार गया ! 42वें वर्ष में पुन: सांसद पद के
लिए खड़ा हुआ, फिर हार गया ! 47वें वर्ष में
उप-राष्ट्रपति पद के लिए खड़ा हुआ, पर परास्त
हो गया ! लेकिन वही व्यक्ति 51 वर्ष
की उम्र में अमेरिका राष्ट्रपति बना !
नाम था- अब्राहम लिंकन !
इसीलिए कहा गया है- "हिम्मत मत हारो, नए
सिरे से फिर यात्रा शुरू करो, सफलता अवश्य
मिलेगी" !

Comments

Popular posts from this blog

चिड़िया की कहानी

बहुत अच्छे विचार जरुर पढ़े

माँ बाप की सेवा